आर्थिक

Education Loan Scheme for Women: भारत में महिलाओं के लिए एजुकेशन लोन स्कीम

Ankit Singh
11 March 2022 10:27 AM GMT
Education Loan Scheme for Women: भारत में महिलाओं के लिए एजुकेशन लोन स्कीम
x
Women Education Loan Scheme: महिलाओं को सशक्त बनाने और युवा लड़कियों को शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए भारत में कई वित्तीय संस्थानों ने विशेष रूप से महिलाओं के लिए एजुकेशन लोन स्कीम शुरू की हैं।

Education Loan Scheme for Women: शोध बताते हैं कि भारत में लगभग 65% लड़कियां विभिन्न कारणों से प्राइमरी एजुकेशन पूरी करने के बाद स्कूल छोड़ देती हैं। इसकी मुख्य वजह पर्याप्त धन की कमी को ठहराया जा सकता है। इसलिए, महिलाओं को सशक्त बनाने और युवा लड़कियों शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए, भारत में कई वित्तीय संस्थानों ने विशेष रूप से महिलाओं के लिए एजुकेशन लोन स्कीम की शुरुआत की हैं।

Women Education Loan Scheme in Hindi

भारत में ऋणदाताओं द्वारा दी जाने वाली बालिका योजनाओं के लिए कुछ लोकप्रिय एजुकेशन लोन हैं-

1) सेंट विद्यार्थी (Cent Vidyarthi)

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया इस एजुकेशन लोन स्कीम की पेशकश करता है, और यह अधिकतम 10 लाख रुपए का लोन प्रदान करता है जो भारत में उच्च शिक्षा हासिल करना चाहते है। वहीं, विदेश में पढ़ने की इच्छा रखने वालों को 20 लाख रुपए तक का लोन मिल जाता है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति से संबंधित महिला आवेदकों के लिए ब्याज दर MCLR = 1.5% है। लोन में पढ़ाई से संबंधित कुल खर्च शामिल हैं, जिसमें कोर्स फीस, पुस्तकों की खरीद, प्रयोगशाला शुल्क, विदेश में शिक्षा के लिए ट्रेवल एक्सपेंस, होस्टल फीस आदि शामिल हैं।

2) कॉर्प विद्या योजना (Corp Vidya Scheme)

महिलाओं के लिए कॉर्पोरेशन बैंक ऑफ इंडिया शिक्षा ऋण योजना नए ऋणों के लिए ब्याज दर से 50 BPS तक की छूट प्रदान करती है। रियायत भारत और विदेशों में पढ़ाई के लिए लिए गए ऋण के लिए लागू है। ऋण में विश्वविद्यालय की लागत, यात्रा व्यय, आवास लागत और अन्य सभी पाठ्यक्रम-संबंधी खर्च शामिल हैं।

3) विद्या ज्योति (Vidya Jyoti)

इंडियन ओवरसीज बैंक द्वारा दी जाने वाली यह एजुकेशन लोन स्कीम सभी छात्राओं के लिए ब्याज दर में 0.5% की रियायत प्रदान करती है। कार्यक्रम के तहत आप भारत में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए 30 लाख तक और विदेशी विश्वविद्यालयों में पढ़ाई के लिए 40 लाख तक उधार ले सकते हैं। इस लोन स्कीम की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि इसमें लचीले पुनर्भुगतान विकल्प हैं। आप पढ़ाई के दौरान ब्याज का भुगतान कर सकते हैं या मूलधन के साथ इसका भुगतान कर सकते हैं।

कोलैटरल की आवश्यकता कब होती है?

भारत में अधिकांश ऋणदाता महिला आवेदकों के लिए एजुकेशन लोन पर ब्याज दर रियायत प्रदान करते हैं, आपको ध्यान देना चाहिए कि 7.5 लाख से अधिक के लोन के लिए, ऋणदाता को कोलैटरल की आवश्यकता हो सकती है। जिनमें से आप नीचे बताई गई चीजे गिरवी रख सकते है-

  • आवासीय संपत्ति
  • फिक्स्ड डिपॉइट की रसीदें
  • एलआईसी पॉलिसी

ये भी पढ़ें -

Personal Loan for Women: महिलाओं के लिए पर्सनल लोन क्या है और इसके लाभ क्या है? जानिए

Bajaj Finance Se Mahila Personal Loan Kaise Le? | Bajaj Finance Personal Loan For Women in Hindi

Education Loan Kaise Le? : Education Loan Details in Hindi

Next Story