आर्थिक

Term Insurance खरीदने का बना रहे हैं प्लान? तो खासकर इन 5 गलतियों से बचकर रहें

Ankit Singh
21 May 2022 7:02 AM GMT
Term Insurance खरीदने का बना रहे हैं प्लान? तो खासकर इन 5 गलतियों से बचकर रहें
x
Term Insurance: टर्म प्लान जीवन बीमा के लिए सही उत्पाद है। यह किसी अनहोनी की स्थिति में आपके परिवार को आर्थिक सुरक्षा देता है। इसलिए टर्म इंश्योरेंस खरीदने से पहले प्लान को अच्छे से समझना चहिए।

Term Insurance: बीमा कंपनी द्वारा पॉलिसीहोल्डर को एक निश्चित समय अवधि के लिए वित्तीय कवरेज प्रदान करने के लिए टर्म इंश्योरेंस की पेशकश की जाती है। पॉलिसी अवधि के दौरान बीमित व्यक्ति की मृत्यु के मामले में लाभार्थी (Beneficiary) को बीमा कंपनी द्वारा डेथ बेनिफिट का भुगतान किया जाता है। बहुत से लोग अक्सर गलत टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीद लेते हैं जो उनकी आवश्यकताओं के अनुरूप नहीं होता है।

ये सामान्य गलतियां हैं जो लोग Term Insurance प्लान खरीदते समय करते हैं जिनसे आपको बचने की आवश्यकता है। ऐसी ही 5 गलतियों के बारे में यहां बताया गया है जो आपको टर्म इंश्योरेंस खरीदने से पहले समझना चाहिए।

1) पर्याप्त बीमा कवर की गणना

आमतौर पर लोग टर्म प्लान पसंद करते हैं जो केवल टैक्स लायबिलिटी को बचाने के लिए पर्याप्त है न कि परिवार की वित्तीय लायबिलिटी के लिए। इसके अलावा, कई लोग आंख बंद करके अपने एजेंटों द्वारा सुझाई गई प्लांस के लिए स्वयं उपयुक्त योजना चुनने के बजाय जाते हैं। इसका परिणाम यह होता है कि व्यक्ति कम या ज्यादा बीमाकृत होता है। आपको वार्षिक आय के आधार पर बीमा कवर की गणना करने के उचित तरीकों के बारे में पता होना चाहिए।

उदाहरण के लिए अगर 30 वर्ष की आयु में 30 लाख रुपये की वार्षिक आय वाला व्यक्ति बीमा कवर खरीदने की योजना बना रहा है, तो वेतन में 6% की वृद्धि को देखते हुए उसे 1.5 करोड़ रुपये का कवर प्राप्त करने की आवश्यकता है। लेकिन आपको इस तथ्य से भी अवगत होने की आवश्यकता है कि अधिकांश बीमा प्रदाताओं के पास वार्षिक आय के 25 गुना के कवर पर कैप है। उपरोक्त उदाहरण में, यह कवर को 1.25 करोड़ रुपये तक सीमित कर देगा।

2) कम अवधि की योजनाओं के साथ प्रीमियम लागत की बचत

उन योजनाओं के लिए कम प्रीमियम उपलब्ध होने के कारण बहुत से लोग छोटी अवधि के लिए जाते हैं। लेकिन जरूरत के वास्तविक समय में बीमाकर्ता के लिए एक अल्पकालिक योजना कम लाभ की होगी जब उसने वित्तीय जिम्मेदारियां जोड़ दी हों।

उदाहरण के लिए, यदि कोई व्यक्ति 30 वर्ष की आयु में 10 वर्ष की अवधि के लिए पॉलिसी खरीदता है, तो 40 वर्ष की आयु में व्यक्ति को एक नई योजना की आवश्यकता होगी। लेकिन तब तक प्रीमियम बढ़ चुका होगा और व्यक्ति को अतिरिक्त वित्तीय जिम्मेदारियों के साथ-साथ उस उच्च लागत को वहन करना होगा।

3) एक कंपनी के प्रति लगाव होना

लोगों द्वारा उस कंपनी से एक टर्म बीमा योजना पर विचार करना एक आम बात है जिसे वे वर्षों से जानते हैं या जिसके साथ उनका व्यक्तिगत परिचय है। जिसके कारण वे उस विशेष कंपनी की योजना की विभिन्न अन्य कंपनियों के साथ तुलना करने के महत्व को नजरअंदाज कर देते हैं। हालांकि, लोगों के लिए यह महसूस करना महत्वपूर्ण है कि यदि वे किसी विशेष कंपनी के प्रति पक्षपाती नहीं हैं तो उन्हें वास्तव में कम कीमत पर बेहतर योजना मिल सकती है।

4) बीमा को निवेश के नजरिए से देखना

कई लोग बीमा की तुलना निवेश से करते हैं और आम टैक्स लाभ के कारण बीमा आधारित निवेश उत्पाद खरीदते हैं। यही कारण है कि बीमा कवर खरीदने के बाद लोग सोचते हैं कि उनका निवेश भी हो गया है। यह महत्वपूर्ण है कि बीमा को निवेश के नजरिए से देखने के बजाय इसके द्वारा प्रदान किए जाने वाले लाभ पर विचार करते हुए वित्तीय आपात स्थितियों से सुरक्षा के रूप में व्यवहार करना चाहिए।

5) कम प्रीमियम का भ्रम

कुछ कंपनियां ग्राहकों को लुभाने के लिए टर्म इंश्योरेंस पॉलिसियों के लिए कम दरों की बोली लगाती हैं। लेकिन ये दरें कई बहिष्करणों का परिणाम हैं। इसलिए किसी योजना के लिए कम कोट के बाद जाने के बजाय, एक प्रतिष्ठित बीमा कंपनी की तलाश करें जो बिना किसी खामियों या छिपी लागत के आपकी आवश्यकताओं के अनुकूल पॉलिसी की व्यवस्था कर सके।

Conclusion -

टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीदते समय एक परिकलित निर्णय लेने में महत्वपूर्ण कारक दूसरों द्वारा की गई गलतियों के बारे में अच्छी तरह से अवगत होना और उन्हें दोहराना नहीं है। इन गलतियों से अवगत होकर आप बीमा उत्पादों की गलत बिक्री का शिकार होने से खुद को बचा सकते हैं।

ये भी पढ़ें -

What is Term Insurance Plan? क्या है term insurance plan का मतलब?

Term Insurance vs Life Insurance: क्या आप जानते हैं टर्म और लाइफ इंश्योरेंस के बीच का अंतर?

आपका Term Insurance भारत के बाहर भी मान्य होता है या नहीं? जानिए क्या है नियम

इस तरह की मौत पर नहीं मिलता Term Insurance का पैसा, जानिए कौन सी मौतें नहीं की जाती कवर?

Next Story