वेब-सीरीज

Netflix पर रिलीज़ हो सकती हैं कई बड़ी फ़िल्में, इंडस्ट्री में डील शुरू होने की सुगबुगाहट।

Janprahar Desk
25 April 2020 1:01 PM GMT
Netflix पर रिलीज़ हो सकती हैं कई बड़ी फ़िल्में, इंडस्ट्री में डील शुरू होने की सुगबुगाहट।
x
कोरोना वायरस लॉकडाउन का असर कई उद्योगों पर पड़ा है, जिनमें फ़िल्म इंडस्ट्री भी शामिल है। सिनेमाघर बंद हैं। फ़िल्मों की शूटिंग भी बंद है। नई फ़िल्मों की रिलीज़ रुकी हुई है। आने वाले समय में भी फ़िल्मों की रिलीज़ भारत में कोरोना वायरस के प्रकोप पर निर्भर करेगी। अगर सिनेमाघर खुल भी गये तो

कोरोना वायरस लॉकडाउन का असर कई उद्योगों पर पड़ा है, जिनमें फ़िल्म इंडस्ट्री भी शामिल है। सिनेमाघर बंद हैं। फ़िल्मों की शूटिंग भी बंद है। नई फ़िल्मों की रिलीज़ रुकी हुई है। आने वाले समय में भी फ़िल्मों की रिलीज़ भारत में कोरोना वायरस के प्रकोप पर निर्भर करेगी। अगर सिनेमाघर खुल भी गये तो दर्शक बड़ी तादाद में जाने से कतराएंगे।

ऐसे में फ़िल्ममेकर्स के सामने सवाल है कि जो फ़िल्में बनकर रिलीज़ के लिए तैयार हैं, उनका भविष्य क्या होगा? अगर इंडस्ट्री इनसाइडर्स की मानें तो कई प्रोड्यूसर्स ने ओटीटी प्लेटफॉर्म को सिनेमाघरों के विकल्प के रूप में देखना शुरू कर दिया है।

ट्रेड विश्लेषक कोमल नहाटा का दावा है कि इस दौरान कम से कम 6 बड़ी फ़िल्मों को लेकर सबसे बड़े स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्मों में से एक नेटफ्लिक्स से बातचीत चल रही है। इन 6 फ़िल्मों में काम करने वाले सभी बॉलीवुड के सेलेबल एक्टर्स हैं, यानि बॉक्स ऑफ़िस पर उनकी फ़िल्मों के लिए दर्शकों को इंतज़ार रहता है।

कोमल ने तो यहां तक दावा किया है कि एक बड़े फ़िल्म स्टार की फ़िल्मों को लेकर भी नेटफ्लिक्स से बातचीत चल रही है। कोमल का मानना है कि ओटीटी प्लेटफॉर्मों पर जल्द बॉलीवुड फ़िल्मों के प्रीमियर शुरू होने की सम्भावना है। यानि सिनेमाघरों के बजाए अब फ़िल्में सीधे आपके मोबाइल फोन पर पहुंचेंगी।

बड़े बजट की फ़िल्मों को होगी मुश्किल

ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ करने में ऐसी फ़िल्मों को कोई दिक्कत नहीं जो छोटे बजट में बनी हैं। नेटफ्लिक्स, अमेज़न प्राइम और हॉटस्टार जैसे प्लेटफॉर्म आसानी से डील कर लेते हैं। मगर, मुश्किल बड़े बजट की फ़िल्मों के सामने आएगी। इन फ़िल्मों की डील फाइनल करना प्रोड्यूसर्स के सामने सबसे बड़ी चुनौती होगी।

आम तौर पर किसी फ़िल्म के अनुमानित नेट बॉक्स ऑफ़िस कलेक्शन के आधार पर ओटीटी प्लेटफॉर्म इनकी क़ीमत तय करते हैं। ऐसे में जिन फ़िल्मों से 100, 200, 300 करोड़ नेट कलेक्शन करने का अनुमान है, उनकी डील को लेकर सवाल अभी भी कायम हैं।

सैटेलाइट डील पर पड़ेगा असर

जब कोई फ़िल्म बनकर तैयार होती है, तो प्रोड्यूसर्स इसकी लागत का एक बड़ा हिस्सा विभिन्न राइट्स बेचकर वसूल कर लेते हैं। इनमें सैटेलाइट राइट्स सबसे अहम है, क्योंकि यह डील काफ़ी बड़ी होती है। आम तौर पर सैटेलाइट डील उन्हीं फ़िल्मों की होती है, जो सिनेमाघरों में रिलीज़ होती हैं। ऐसे में सवाल यह भी है कि सीधे ओटीटी पर रिलीज़ होने की वजह से फ़िल्म प्रोड्यूसर्स सैटेलाइट डील कैसे करेंगे?

इन फ़िल्मों की रिलीज़ लटकी

अक्षय कुमार की फ़िल्म सूर्यवंशी 24 मार्च को रिलीज़ होने वाली थी, मगर सिनेमाघर बंदी और लॉकडाउन के चलते इसकी रिलीज़ टल चुकी है। रणवीर सिंह की फ़िल्म अप्रैल में रिलीज़ होने वाली थी। लॉकडाउन के चलते यह भी टल चुकी है।

वरुण धवन की कुली नम्बर वन भी बनकर तैयार है। अब मई में रिलीज़ होने वाली फ़िल्मों की रिलीज़ भी टलने की ख़बर है। मई में अक्षय कुमार की लक्ष्मी बम और सलमान ख़ान की राधे रिलीज़ होने वाली थीं। इन फ़िल्मों की रिलीज़ को लेकर अभी कोई आधिकारिक सूचना नहीं है।

Next Story