जब ऋतिक ने पिताजी राकेश रोशन को माफिया द्वारा गोली मारे जाने की बात की

फिल्म 'कहो ना प्यार है' के सुपरहिट होने के बाद डायरेक्टर राकेश रोशन (Rakesh Roshan) पर एक बड़ी मुसीबत आन पड़ी थी। राकेश रोशन को जनवरी 2000 में मुंबई के पश्चिमी उपनगर में सांताक्रूज कार्यालय के बाहर गोली मार दी गई थी।
 
जब ऋतिक ने पिताजी राकेश रोशन को माफिया द्वारा गोली मारे जाने की बात की

फिल्म 'कहो ना प्यार है' के सुपरहिट होने के बाद डायरेक्टर राकेश रोशन (Rakesh Roshan) पर एक बड़ी मुसीबत आन पड़ी थी। राकेश रोशन को जनवरी 2000 में मुंबई के पश्चिमी उपनगर में सांताक्रूज कार्यालय के बाहर गोली मार दी गई थी। हमलावरों ने छह राउंड फायर किए थे, जिनमें से दो गोलियां उन्हें लगी थीं। 

सुनील गायकवाड़, जो शार्पशूटर है, उन्होंने राकेश रोशन को जान से मारने की कोशिश की थी। ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) ने इस बारे में बात करते हुए बताया था कि फिल्म के सक्सेस के बाद उनके पिता को जान से मारने की कोशिश की गई।

ऋतिक रोशन ने कहा, "मेरे पिता बहुत कर्ज में थे क्योंकि हमने फिल्म बनाने के लिए बहुत पैसा उधार लिया था। यह फिल्म पिछले पांच-छह वर्षों में सबसे बड़ी हिट थी। इस फिल्म ने मुझे स्टार बनाया (कहो ना प्यार है)। बस पहले हफ्ते में, यह हुआ। उन्हें पता था कि मेरे पिता का अच्छा समय है, वह सफल है, पैसा आने वाला है। इसलिए उन्हें पैसे चाहिए थे, हमने पैसे नहीं दिए। उन्होंने उसे गोली मार दी।"
 
ऋतिक ने आगे कहा, "तब मैं ये समझ गया कि डर के जीने का कोई मतलब नहीं है। अगर उस गोली से मरना तय है, तो आप उसीसे मरेंगे। और नहीं मरना लिखा है तो नहीं मरेंगे।"

पुलिस ने बताया था कि शार्पशूटर सुनील वी गायकवाड़ पर हत्या के 11 मामले दर्ज हैं और हत्या के सात मामले उसके खिलाफ दर्ज हैं। इनमें से एक बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन पर जान से मारने का भी मामला है।"

अन्य खबरें:

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|