शादी के पहले हुईं प्रेगनेंसी पर यूजर ने दीया मिर्जा से पूछा सवाल, अभिनेत्री ने दिया शानदार जवाब, यहां देखिये

अभिनेत्री दीया मिर्जा ने हाल ही में सोशल मीडिया गुड न्यूज़ शेयर कर अपनी प्रेगनेंसी की खबर सभी को बताई थी। शादी से पहले प्रेग्नेंट को लेकर अक्सर महिलाओं पर सवाल उठाये जाता है और ऐसा दीया के साथ भी हुआ है।
 
शादी के पहले हुईं प्रेगनेंसी पर यूजर ने दीया मिर्जा से पूछा सवाल, अभिनेत्री ने दिया शानदार जवाब, यहां देखिये

अभिनेत्री दीया मिर्जा (Dia Mirza) ने हाल ही में सोशल मीडिया गुड न्यूज़ शेयर कर अपनी प्रेगनेंसी की खबर सभी को बताई थी। शादी से पहले प्रेग्नेंट को लेकर अक्सर महिलाओं पर सवाल उठाये जाता है और ऐसा दीया के साथ भी हुआ है। आपको बता दें दीया और उनके पति वैभव रेखी इन दिनों मालदीव में हनीमून के लिए गए है। वहीँ से दीया ने अपनी प्रेगनेंसी की खबर दी थी। 

एक यूजर ने उनके पोस्ट पर कमेंट कर उनकी शादी के पहले प्रेगनेंसी को लेकर सवाल उठाये है। यूजर ने कहा, 'ये अच्छी बात है, बधाई लेकिन दिक्कत ये है कि, उन्होंने महिला पंडित के जरिए स्टीरियोटाइप तोड़ने की कोशिश की तो फिर वो अपनी शादी से पहले प्रेग्नेंसी की खबर क्यों एनाउंस नहीं कर पाईं? क्या शादी के बाद ही प्रेग्नेंट होना हमारे द्वारा फॉलो किया जाने वाला एक स्टीरियोटाइप नहीं है? क्यों महिलाएं शादी के पहले प्रेग्नेंट नहीं हो सकतीं?'

dia mirza

यह कमेंट पढ़ते ही किसीको भी गुस्सा आ सकता था लेकिन दीया मिर्जा (Dia Mirza) ने बड़ी समझदारी से इसका जवाब दिया। उन्होंने कहा, ''दिलचस्प सवाल। पहली बात, हमने इसलिए शादी नहीं कि क्योंकि हमारा बेबी आ रहा था। हम पहले से ही शादी कर रहे थे और एक-दूसरे के साथ अपनी जिंदगी गुजारना चाहते थे। हमारा बेबी आने वाला है ये हमें तब पता चला जब हम अपनी शादी की तैयारी कर रहे थे। तो ये शादी, प्रेग्नेंसी की वजह से नहीं है। हमने प्रेग्नेंसी का ऐलान तब तक नहीं किया, जब तक हमें ये पता नहीं चला की सब सुरक्षित है (मेडिकल कारण)। ये मेरी जिंदगी की सबसे ज्यादा खुशी देने वाली खबर है। मैंने इसके लिए कई कई सालों तक इंतजार किया है। ऐसा कोई कारण नहीं था जिसकी वजह से मैं ये खबर छुपाती, सिवाए मेडिकल के'। 

dia

दीया ने बताया कि यूजर के सवाल का जवाब क्यों दिया- 
1) बच्चे का होना जिंदगी का सबसे खूबसूरत गिफ्ट है।
2) इस खूबसूरत यात्रा से कोई शर्म नहीं जुड़ी होनी चाहिए।
3) एक महिला के तौर पर हमें अपनी पसंद से हर काम करना चाहिए।
4) चाहे हम चुनें कि हमें सिंगल पेरेंट होना है या फिर शादी करनी है ये हमारी च्वाइस होनी चाहीए।
5) एक समाज के तौर पर हमें इस विचार को अन स्टीरियोटाइप करना चाहिए क्या सही है और क्या गलत है, बल्कि खुद तो ट्रेन करना चाहिए ये पूछने को क्या न्याय है और क्या अन्याय'।

अन्य खबरें:

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|