क्राइम

विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद इस गाँव में जोरदार उत्सव; वजह भी है कुछ ऐसी।

Janprahar Desk
11 July 2020 2:45 PM GMT
विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद इस गाँव में जोरदार उत्सव; वजह भी है कुछ ऐसी।
x
कुख्यात गुंडे विकास दुबे का कानपुर में 30 साल का आतंक अब खत्म हो गया है। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के लिए जिम्मेदार दुबे का सामना बिकरू नामक एक छोटे से गांव में मुठभेड़ के बाद हुआ था।

कुख्यात गुंडे विकास दुबे का कानपुर में 30 साल का आतंक अब खत्म हो गया है। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के लिए जिम्मेदार दुबे का सामना बिकरू नामक एक छोटे से गांव में मुठभेड़ के बाद हुआ था।

विकास का जन्म चौबेपुर इलाके के बिकरू गांव में हुआ था। विकास, जो एक बच्चे के रूप में छोटी लड़ाई लड़ते थे, बड़ा होकर क्षेत्र में एक कुख्यात गैंगस्टर बन गया। दुबे का यह आतंक उनके गाँव बिकरू और आसपास के गाँवों को बहुत परेशान कर रहा था। परिणामस्वरूप, दुबे के साथ मुठभेड़ के बाद से क्षेत्र के नागरिक खुश नहीं हैं।

दुबे और उनके गिरोह को क्षेत्र में कई लोगों से जमीन हथियाने, हत्याओं और धमकियों के कारण आतंकित किया गया था। पुलिस द्वारा मुठभेड़ की कार्रवाई का समर्थन गांव के नागरिकों द्वारा किया जा रहा है।

पुलिस का काम लोगों के मन में डर को खत्म करना है। दुबे के गाँव के नागरिकों ने यह विचार व्यक्त किया कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस काम को बहुत ही सटीक ढंग से अंजाम दिया है।

Next Story