बिज़नेस

What is e-Rupi in Hindi : e-RUPI कैसे करता है काम और कहां होगा इस्तेमाल, विस्तार से जानें

Janprahar Desk
2 Aug 2021 1:22 PM GMT
What is e-Rupi in Hindi : e-RUPI कैसे करता है काम और कहां होगा इस्तेमाल, विस्तार से जानें
x
What is e-Rupi in Hindi : e-RUPI kya hai?

What is e-Rupi in Hindi: देश में 1 अगस्त से एक डिजिटल पेमेंट सिस्टम लांच होगा जिसे ‘e-RUPI' नाम दिया गया है। e-Rupi को डिजिटल करेंसी के रूप में भारत का पहला कदम माना जा रहा है। e-RUPI एक डिजिटल कैशलेस पेमेंट्स सिस्टम है। यह एक तरह का गिफ्ट वाउचर है जो एसएमएस या एक क्यूआर कोड के जरिए प्राप्त किया जाएगा। अगर आपको अभी भी समझ में नहीं आया तो चलिए आपको और आसान भाषा में समझाते है What is e-Rupi in Hindi का मतलब।

सबसे पहले आपको बता दें कि e-Rupi को नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के वित्तीय सेवा विभाग ने डवलप किया गया है।

  • e-RUPI kya hai? : What is e-Rupi in Hindi (क्या है e-RUPI?)

e-RUPI बाकी सभी डिजिटल पेमेंट सिस्टम से अलग है। अन्य डिजिटल पेमेंट के जरिये आप अपने पैसे को कही भी खर्च कर सकते है लेकिन e-RUPI एक वाउचर के रूप में होगा जिसे रिडीम कराना होगा। फिलहाल में इसे आम लोग इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। इसे सरकार द्वारा किसी योजना के तहत फिलहाल में इस्तेमाल किया जाएगा।

पहले लेन-देन के लिए नोट या सिक्कों का इस्तेमाल होता था, उसके बाद क्रेडिट और डेबिट कार्ड का जमाना आया, जिसके जरिए किसी को भी पेमेंट ट्रांसफर किया जा सकता हैं। उसके बाद गूगलपे या भारतपे जैसी डिजिटल पेमेंट एप का इस्तेमाल होने लगा। इन सब पेमेंट्स में एक शख्स अपने पास मौजूद पैसों को कहीं भी खर्च कर सकता था।

यह भी पढ़ें: Best Gold Investment Plan: गोल्ड में निवेश करने के लिए ये चार ऑप्शन है शानदार, होगा मुनाफा

लेकिन e-RUPI को खास मकसद के लिए ही खर्च किया जाएगा। इसमें एसएमएस के जरिए पेमेंट होता है। ऐसे में आप एक दूसरे को मैसेज के रूप में वाउचर भेजेंगे और वाउचर को प्राप्तकर्ता बिना किसी इंटरनेट और स्मार्टफोन के जरिए उस वाउचर के पैसे को अकाउंट में ट्रांसफर कर सकेंगे। यह प्रीपेड होगा और इसके जरिए सीधे प्राप्तकर्ता के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाएंगे।

What is e-Rupi in Hindi

  • कहां इस्तेमाल हो सकता है e-RUPI?

सरकार की योजनाओं की सुनिश्चित डिलीवरी के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। कई तरह की सरकारी योजनाओं के लिए सरकार इसका इस्तेमाल करेगी। जैसे कि मातृ एवं बाल कल्याण योजनाओं के तहत दवा व न्यूट्रीशनल सपोर्ट उपलब्ध कराने वाली स्कीम्स या फिर अन्य सब्सिडी योजनाओं की सेवा। इसके जरिए स्कीम का पैसा सीधे उन लोगों तक पहुंचेगा जो इसके हकदार है। इसमें किसी भी बिचौलिए को पैसा गबन करने का मौका नहीं मिल पायेगा।

अन्य खबरें

Next Story