RBI New Policy on Cheque Payment | बैंक चेक पेमेंट का नया नियम क्या हैं?

Cheque से लेनदेन के दौरान धोखाधड़ी से बचने के लिए कौन सी सावधानी बरती जाती है यह जानने के लिए आगे क्या जानने के लिए आगे पढ़ें।
 
RBI New Policy on Cheque Payment | बैंक चेक पेमेंट का नया नियम क्या हैं?


बैंक ग्राहकों को cheque के जरिए पैसों की लेनदेन करने की सुविधा देती है। बड़े amount के लेनदेन के लिए cheque का इस्तेमाल ज्यादातर रूप से किया जाता है। बड़े अमाउंट में पैसों के लेनदेन के लिए cheque का इस्तेमाल करना सुविधाजनक होता है। Cheque के जरिए खाताधारक (account holder) बैंक को यह जानकारी देता है कि वह अपने खाते से रकम को दूसरे अकाउंट में यानी कि दूसरे व्यक्ति को transfer कर रहे हैं।

Cheque भरते वक्त जिस तरह से ग्राहकों को सावधानी बरतनी पड़ती है। ठीक उसी तरह बैंक को भी इस पर कुछ सावधानी बरतनी जरूरी है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) ग्राहकों को और बैंकों के लिए कुछ नियम लागू करता है और इन्हें पूरा करने के लिए कहता है। इन शर्तों के जरिए RBI बैंक से लेनदेन के दौरान होने वाली धोखाधड़ी पर नियंत्रण करता है।

Positive pay system kya hai?

  • RBI के मुताबिक बैंकों और ग्राहकों को CTS 2010 cheque का इस्तेमाल करना चाहिए। देश के सभी बैंकों में 2010 के cheque transfer system CTS 2010 लागू किया गया है। इनमें सुरक्षा संबंधित कई विशेषताएं होती हैं। ग्राहकों को non-cts cheque का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।
  • आरबीआई के मुताबिक चेक पर लिखते समय गहरे रंग की पेन का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। एक बार चेक में जो जानकारी दर्ज हो जाती है तो उसमें किसी भी तरह का बदलाव या सुधार नहीं किया जाना चाहिए। किसी भी तरह का बदलाव या सुधार करने के लिए नए cheque का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • वही बैंक को cheque पर मुहर लगाते समय इस बात का ध्यान रखना होगा कि वह तारीख, अकाउंट होल्डर का नाम, अमाउंट और हस्ताक्षर के ऊपर ना लगाएं।

RBI की नई POLICY जानने के लिए यह वीडियो देखें:

बैंकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि cheque के महत्वपूर्ण हिस्से स्पष्ट दिखे। रबर के मोहर इत्यादि के प्रयोग के कारण चेक के प्रमुख स्थानों को अस्पष्ट नहीं होना चाहिए। तो अगर अगली बार आप बैंक में जाएं और चेक के जरिए किसी से पैसे का आदान प्रदान करना चाहते हैं तो इन बातों को अवश्य ध्यान में रखें।
अन्य खबरें:

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|