FSSAI ने उठाया बड़ा कदम, अब 1 अक्टूबर से खराब खाने की तुरंत कर सकते हैं कंप्लेन

 
Payment

अगर आप कही से ऑनलाइन खाना मंगवाते है और खाना अनहाइजीनिक होता है तो आप उसकी शिकायत ज्यादा से ज्यादा होटल के मालिक तक ही कर पाते है, लेकिन लीगल एक्शन नहीं ले पाते है। लेकिन अब से आप यह भी कर पाएंगे। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने एक नया नियम लागू किया है जिसके तहत प्रत्येक फूड बिजनेस ऑपरेटर को फूड बिजनेस शुरू करने से पहले FSSAI लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन प्राप्त करना आवश्यक है। वहीं जिनका रेस्टॉरेंट पहले से है उन्हें FSSAI नंबर को पैकेज्ड फूड लेबल पर प्रदर्शित करना अनिवार्य होगा। 

इस कदम से उन उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी जो FSSAI नंबर का उपयोग करके ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवाना चाहते हो। यह नया नियम 2 अक्टूबर से लागू हो जाएगा। 

फूड सेफ्टी रेग्युलेटर ने गुरुवार को आदेश जारी कर कहा, 2 अक्टूबर के बाद से सभी फूड बिजनेस ऑपरेटर को नया बिज़नेस शुरू करने से पहले फूड ऑपरेटर FSSAI नंबर लेना आवश्यक है। बात दें कि जिन फूड ऑपरेटर्स के पास FSSAI नंबर पहले से मौजूद है उनके उनका नंबर ग्राहकों को आसानी से दिखाई नहीं देता। फूड सेफ्टी रेग्युलेटर ने बताया कि FSSAI नंबर होने से उपभोक्ताओं के शिकायत का निवारण भी जल्दी हो जएगा। 

फूड सेफ्टी रेग्युलेटर ने साफ तौर पर कहा है कि FSSAI नंबर को पैकेज्ड फूड लेबल पर अंकित करना अनिवार्य होगा। कैटरर्स, मिठाई की दुकान, रेस्टोरेंट्स को भी यह नंबर अलॉट कराना अनिवार्य होगा। बात दें कि FSSAI एक चौदह आंकड़ों का लाइसेंस नंबर होता हैं। इसके नियमों का अमल स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय से किया जाता हैं।

अन्य खबरें 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|