बिज़नेस

68 सालों बाद फिर से टाटा संस को मिली Air India की कमान, Tata Group ने लगाई सबसे ऊंची बोली

Ankit Singh
1 Oct 2021 6:51 AM GMT
Tata Sons wins Air India bid
x
टाटा संस ने Air India की बोली जीत ली है। मिली जानकारी के अनुसार एयर इंडिया की बिक्री के लिए लगाई गई दोनों बोलियों में से सरकार ने Tata Group को चुना है।

आखिरकार एयर इंडिया (Air India) को खरीदार मिल ही गया। एयर इंडिया के पुराने मालिक टाटा संस (Tata Sons) ने ही Air India की बोली जीत ली है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एयर इंडिया की बिक्री के लिए लगाई गई दोनों बोली में से सारकर ने टाटा को चुना। बस अब औपचारिक घोषणा होनी बाकी है।

बताया जा रहा है कि Air India को खरीदने के लिए स्पाइसजेट के चेयरमैन अजय सिंह और टाटा ग्रुप ने आखिरी बोली लगाई थी लेकिन अंत मे टाटा ग्रुप ने Air India को खरीद लिया। बता दें कि एअर इंडिया को 1932 में टाटा ग्रुप ने ही शुरू किया था। तब टाटा समूह के जेआरडी टाटा इसके फाउंडर थे।

शुरुआत में Air India का नाम टाटा एअर सर्विस (Tata Air Service) रखा गया था। 1938 तक कंपनी ने अपनी घरेलू उड़ानें शुरू कर दी थीं। बाद में दूसरे विश्व युद्ध के बाद इसे सरकारी कंपनी बना दिया गया। सारकर ने आजादी के बाद Air India में 49 प्रतिशत की हिसीदारी खरीदी थी।

टाटा संस ने Air India को खरीद तो लिया है लेकिन उसे लगभग 23,286.5 करोड़ रुपए के कर्ज का बोझ उठाना होगा। 31 मार्च 2019 तक Air India का कुल कर्ज 60,074 करोड़ रुपए था। 2007 में जब Air India का इंडियंस एयरलाइन में विलय हुआ था तब से एयर इंडिया कभी नेट प्रॉफिट में नहीं रही है।

एअर इंडिया में मार्च 2021 में खत्म तिमाही में लगभग 10,000 करोड़ रुपए का घाटा होने की आशंका जताई गई। ज्ञात हो कि मौजूदा समय में Air India विदेशों में 1800 और देश में 4400 पर्किंग स्लॉट और लैंडिंग को कंट्रोल करती है।

ये भी पढ़ें-

आप भी लेना चाहते है FD? तो ये महीना रहेगा सबसे परफेक्ट, इस कारण मिलेगा सबसे ज्यादा रिटर्न

Adhaar की तरह आपके पास होगा Unique Health Card, इसमें दर्ज होगा इलाज का रिकॉर्ड, जानें डिटेल्स

Post Office स्कीम: सिर्फ एक बार पैसा लगाकर हर महीने कमाएं गारंटीड इनकम, यहां है डिटेल

Next Story
Share it